प्रांतीय वॉच

अधिकारियों ने मैदानी अमले को सिखाये सुरक्षित ढंग से कार्य करने के तरीके

  • कोई भी दुर्घटना न हो यही प्राथमिकता: ईडी

तापस सन्याल/दुर्ग : छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड दुर्ग क्षेत्र, कर्मचारियों के लिये दुर्घटना रहित कार्यषैली हेतु वर्कशॉप लगातार आयोजित कर रही है। नवागढ़ उपसंभाग कार्यालय के मैदानी अमले को कार्यपालक निदेशक श्री संजय पटेल द्वारा सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए कार्य करने के विषय में जानकारी दी गई। श्री पटेल ने कहा कि ज्यादातर हादसे कर्मियों की छोटी-छोटी लापरवाही से होते हैं, इसलिए बचाव के साधनोें का पूरा उपयोग कर ही बिजली का कार्य करना चाहिये। उन्होंने कहा सुरक्षा का मूलमंत्र है, कि एक सेफ्टी जोन बनाकर कार्य करें। उन्होंने समस्त तकनीकी कर्मचारियों को सुरक्षा उपकरणों एवं उपायों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिये। विद्युत सुरक्षा के बुनियादी सिद्धांतों को समझकर और पालन करके ही विद्युतीय दुर्घटनाएं रोकी जा सकती हैं। थोड़ी से लापरवाही से जान जा सकती है इसलिए स्वयं की सुरक्षा आपकी पहली प्राथमिकता होनी चाहिये। उन्होंने मैदानी अमले को निर्देश देते हुए कहा कि विद्युत कनेक्षन में सहीं अर्थिंग बहुत महत्वपूर्ण है, ये बात सभी उपभोक्ताओं को बताएं और स्वयं भी इसकी जांच करें। हमेशा सुरक्षा उपकरणों के साथ ही कार्य करने के सख्त निर्देश दिये गए। सुरक्षा नोडल अधिकारी अतिरिक्त मुख्य अभियंता श्री एच.के.मेश्राम ने मैदानी अमले को सुरक्षा उपकरणों जैसे सेफ्टी बेल्ट, हेलमेट, दस्ताने, टेस्टर, डिस्चार्ज राड आदि का उपयोग करते हुए कार्य करने के निर्देश दिये । उन्होंने कहा कि सुरक्षा उपकरणों की नियमित तौर से जांच करें और खराब होने पर तत्काल बदलें। सुरक्षा उपकरणों के सुरक्षात्मक उपयोग के बारे में विस्तार से बताते हुए कर्मचारियों के द्वारा किस प्रकार इनका उपयोग करना है इनको प्रायोगिक तौर से दिखाया गया। कार्यक्रम के दौरान तकनीकी कर्मचारियों द्वारा अपने सुरक्षा संबंधित अनुभव एवं कार्य के दौरान आने वाले परेशानियों को भी साझा किया गया।
इस अवसर पर अधीक्षण अभियंता श्री ए.के.गौराहा ने मैदानी कर्मचारियों के सुरक्षा उपकरणों की जांच करते हुए सुरक्षा मानकों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। सभी उच्च अधिकारियों ने उपस्थित मैदानी अमले से कहा कि बिजली बिल जमा करने आने वाले उपभोक्ताओं को ऑनलाईन पेमेन्ट या ‘‘मोर बिजली एप’’ के माध्यम से भुगतान करने हेतु प्रेरित करें। उन्होंने बताया कि अपने मोबाइल फोन से गूगल प्ले स्टोर पर इस ऐप को डाऊनलोड कर उपभोक्तागण घर बैठे ही विद्युत संबंधी कार्यो का निपटारा कर सकते है। उन्होंने सभी उपभोक्ताओं से “मोर बिजली ऐप” का अधिकाधिक उपयोग करने की अपील की है ताकि पॉवर कंपनी द्वारा दी जा रही सुविधाओं का लाभ उन्हे मिल सकें। इस दौरान कार्यपालन अभियंता श्री उमेश ठाकुर एवं अन्य अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *