प्रांतीय वॉच

बोइरगाव पंचायत की सामग्री का निजी उपयोग कर रहे सरपंच एवं उपसरपंच

रवि सेन/बागबाहरा : बागबाहरा ब्लॉक के ग्राम पंचायत बोइरगाव में विकास कार्य कराने के बजाय सरपंच ने सरकारी राशि को स्वयं के विकास के लिए आहरित कर वही सरपंच द्वारा द्वारा पंचायत में लाखों रुपये का भ्रष्टाचार कर बिना कार्य कराए फर्जी बिल के सहारे लाखों रुपये का आहरण भी कर लिया गया है जिसकी शिकायत ग्रामिणो द्वारा किया गया है । बतादे की सरकार द्वारा ग्राम पंचायतो में विकास कार्य कराने के लिए मूलभूत राशि , 14 वे वित्त , 15 वे वित्त सहित अन्य मदो के माध्यम से राशि दिया जाता है ताकि ग्राम पंचायत में मूलभूत सुविधाओं सहित विकास एवं निर्माण कार्य कराया जा सके लेकिन ग्राम पंचायत सरपंचों द्वारा शासकीय राशि का उपयोग केवल अपनी जेब भरने के लिए किया जा रहा है बतादे की बागबाहरा ब्लॉक के ग्राम पंचायत बोइरगाव में पंचों एवं ग्रामीणों ने सरपंच द्वारा शासकीय राशि को बिना कार्य कराए एवं फर्जी बिल लगाकर निकालने की शिकायत की है । गौरतलब हो कि सरपंच द्वारा 14 वे वित्त एवं 15 वे वित्त की राशि सहित मनरेगा योजना में भी मस्टर रोल में फर्जी नामों को जोड़ कर शासकीय राशि में बंदरबाट करने की शिकायत की है ।

18 बिंदुओं पर ग्रामीणों ने किया शिकायत 
ग्राम पंचायत बोइरगाव के चंद्रशेखर ठाकुर , विजय सिंग ठाकुर , मोती , रूपसिंग , दसरथ ठाकुर , मोहन सिंग , बल्ला , रामकुमार , होमन , मेसराम ठाकुर , उदयसिंग , युवराज , नेतुराम , जमुना ,देवदास , ललिता बाई सहित अन्य ग्रामीणों एवं पंचों द्वारा सरपंच के खिलाफ 18 बिंदुओं में शासकीय राशि मे फर्जीवाड़े कर राशि आहरित करने की शिकायत की है जिसमे गोठान में 3 एचपी के 8 सेट मोटर खरीदने के नाम पर 55450 रुपये निकाला गया । सहित खेल सामग्री , साफ – सफाई , मुरुम ढुलाई , मोटर वाइंडिंग , पाइपलाइन सामग्री, कम्प्यूटर रिपेयरिंग , चपरासी मानदेय सहित पंच – सरपंच के मानदेय के नाम पर फर्जी बिल लगाकर राशि का आहरण कर लिया गया है ।

निजी उपयोग में डिजिटल इंडिया का कनेक्शन

शासन द्वारा प्रत्येक पंचायत को इंटरनेट के माध्यम से जोड़कर ऑनलाइन करने की डिजिटल इंडिया वाली योजना के तहत पंचायत द्वारा बीएसएनएल की ब्रॉडबैंड कनेक्शन पंचायत द्वारा लिया गया था लेकिन ये ब्रॉडबैंड कनेक्शन एवं सोलर पैनल बोइरगाव के उप सरपंच के घर पर लगे हुए है और उपसरपंच द्वारा इस ब्रॉडबैंड कनेक्शन एवं सोलर पैनल का उपयोग का बाकायदा ग्राहक सेवा केंद्र का संचालन कर रहा है जबकि लोगो को पंचायत के कामो के लिए उपसरपंच के ग्राहक सेवा केंद्र का चक्कर लगाना पड़ता है ।

पंचायत के फर्नीचर का निजी उपयोग

सरपंच द्वारा 14 वे वित्त की राशि से पंचायत भवन के लिए 63540 रुपये का फर्नीचर क्रय किया गया था लेकिन इन फर्नीचरों का उपयोग पंचायत में नही बल्कि सरपंच द्वारा अपने घर मे उपयोग किया जा रहा है । वही सरपंच द्वारा 9040 रुपये के मूल्य के स्टील डंबल भी क्रय किया गया है जिसका प्रावधान 14वे वित्त में नही है उसके बावजूद भी राशि आहरण किया गया ।

वीरेंद्र महानंद (सरपंच ग्राम पंचायत बोइरगाव) – ग्रामीणों एवं पंचों द्वारा लगाए गए आरोप निराधार है । जितना भी समान क्रय किया गया है सब का बिल वाउचर लगा है और प्रस्ताव भी किया गया है ।

नंद कुमार यादव (उपसरपंच बोइरगाव) – ब्रॉडबैंड कनेक्शन कुछ दिनों के लिए लगा था ।

नाथूराम गायकवाड़ (पूर्व पंचायत सचिव बोइरगाव) – मेरा ट्रांसफर दूसरी जगह हो गया है अब इस बारे मे मुझे कोई जानकारी नही है जो भी जानकारी है वो सरपंच से पूछ लीजिए।

कनक ध्रुव (वर्तमान सचिव) – मेरी पोस्टिंग मई माह में इस पंचायत में हुई है मेरे आने से पहले का मामला है । ग्रामीणों एवं पंचों की शिकायत वाला मामला मेरे संज्ञान में है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *