प्रांतीय वॉच

आदिवासी लोगों का भरोसा भूपेश सरकार, शासन-प्रशासन जनता के बीच जाकर कर रही विकास : मंत्री लखमा

  • ग्रामीणों की मांग और आवश्यकताएं हो रही पूरी, जीवन में आ रहा बदलाव
  • किस्टाराम सुविधा शिविर पहँुचे उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा

बालकृष्ण मिश्रा/सुकमा : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार आदिवासी अंचलों में निवासरत आम जनता के हित में पूर्ण निष्ठा से कार्य कर रही है। सुकमा जिला का विकास शासन की प्राथमिकता है, यहाँ की जनता को उनका अधिकार दिलाना, जमीन का मालिकाना हक प्रदाय करना, खेती किसानी के प्रति प्रोत्साहित करना, अधिक से अधिक रोजगार मूलक गतिविधियों से जोड़कर आर्थिक संबल प्रदान करने का कार्य शासन प्रशासन कर रही है। प्रदेश के उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा ने आज ग्राम पंचायत किस्टाराम में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए यह बातें कहीं। इस दौरान बिजापुर विधायक श्री विक्रम शाह मण्डावी, सुकमा नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष श्री जगन्नाथ साहू, सहित अन्य जनप्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।

मंत्री श्री लखमा ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री बघेल के मार्गदर्शन में जिले में विकास कार्यों का विस्तार गति से हो रहा है, जिससे आदिवासी अंचल के ग्रामीणों का भरोसा शासन के प्रति निश्चित तौर पर विश्वास बढ़ा है। वर्षों से कई क्षेत्र सड़कविहीन और अविद्युतीकृत थे, आज वहाँ चमचमाती सड़के है, विद्युत विस्तार है। सुकमा जिलेवासियों के लिए यह सरकार नए सवेरे की तरह है जिसने आदिवासी जन सामान्य के जीवन में रोशनी लाई है। जिले के कई ऐसे क्षेत्र थे जहाँ स्वास्थ्य सुविधाओं की पहुँच नही थी, आज उन क्षेत्र के ग्रामीणों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिल रहा है। माताओं तथा छोटे बच्चों को सुपोषित आहार प्रदान करने नवीन आंगनबाड़ी केन्द्र का संचालन, अंदरुनी क्षेत्रों के बच्चों को स्कूली शिक्षा सुलभ करने, वर्षों से बन्द पड़े स्कूलों का पुनः संचालन शिक्षादूत के माध्यम से किया जा रहा है, वहीं संवेदनशील क्षेत्रों जैसे जगरगुण्डा, भेज्जी में स्कूल संचालित किए जा रहे हैं।

अधिकारियों के निष्ठा भाव को सराहा, थपथपाई पीठ
उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा ने जिला प्रशासन द्वारा आम जन की सुविधा के लिए संचालित की जा रही सुविधा शिविर में आधार पंजीयन, राशन कार्ड बनवाने सहित अन्य सुविधाओं का लाभ लेने पहुँचे ग्रामीणों से रुबरु हुए और हितग्राहियों को राशन कार्ड प्रदान किया। इस दौरान उन्होंने किस्टाराम जैसे दूरस्थ क्षेत्र में सुविधा शिविर का संचालन कर ग्रामीणों को मूलभूत सुविधाओं और शासकीय योजनाओं का लाभ प्रदाय करने के लिए जनप्रतिनिधियों, कलेक्टर, एसपी सहित सभी प्रशासनिक अधिकारियों और कर्मचारियों की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि अंदरुनी क्षेत्रों के ग्रामीण वर्षों से आधार कार्ड, राशन कार्ड, पेंशन पंजीयन, स्वास्थ्य कार्ड आदि नहीं होने के कारण बहुत सी शासकीय योजनाओं से वंचित रहे हैं, आम जन की समस्याओं के प्रति संवेदनशीलता से कार्य करते हुए प्रशासन ने उमदा कार्य किया है, जिसका परिणाम है कि लगभग 20 हजार ग्रामीणों को इन सुविधा शिविर से लाभान्वित किया गया है। मंत्री श्री लखमा ने अधिकारियों को आगामी दिवसों में ग्राम पंचायत वार सुविधा शिविर का आयोजन करने के निर्देश दिए हैं, ताकि प्रत्येक पंचायत में शत प्रतिशत व्यक्तियों को लाभ मिले।

आम जन की सुविधा प्रशासन की जिम्मेदारी – कलेक्टर नन्दनवार
किस्टाराम सुविधा शिविर में आए ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री विनीत नन्दनवार ने कहा कि शिविर में पधारे प्रत्येक ग्रामीण का आधार कार्ड, राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड, पेंशन पंजीयन पूर्ण होने तक शिविर का संचालन किया जाएगा, प्रशासन आपकी सुविधा के लिए है। उन्होंने कहा कि सुकमा जिले का विकास शासन प्रशासन की प्राथमिकता हैं, ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण के लिए प्रशासन कटीबद्ध है। कोई भी समस्या होने पर प्रशासन को अवगत करें। इसके साथ ही उन्होंने ग्रामीणों को राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत पंजीयन कर योजना का लाभ लेने के लिए प्रोत्साहित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *