प्रांतीय वॉच

पुलिस का टेस्ट लेना चोर को पड़ा भारी, ​​​​​​​कंट्रोल रूम को सूचना दी- दो गुटों में लड़ाई हो रही, ट्रेस किया तो पकड़ा गया चोर

कवर्धा : एक चोर की झूठी सूचना ने पुलिस की काफी मशक्कत करा दी। पुलिस का टेस्ट लेना चोर को भी भारी पड़ गया। उसने कंट्रोल रूम में कॉल कर शहर में उपद्रव की सूचना दे दी। पुलिस तत्काल सक्रिय हुई, तो मौके पर किसी भी तरह की घटना का पता नहीं चला। इस पर पुलिस ने कॉलर को ट्रेस करने का प्रयास किया और उसे धर दबोचा। जब कॉल करने वाला पुलिस के हत्थे चढ़ा तो पता चला कि चोर है।

दरअसल, रायपुर के वेब पोर्टल के जरिए कबीरधाम (कवर्धा) पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना मिली कि दर्रीपारा इलाके में दो गुटों के बीच लड़ाई हो रही है। सूचना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस एक्टिव हुई और सिटी कोतवाली की डायल-112 की टीम को दर्रीपारा भेजा गया। वहां टीम ने कॉल से उसके मोबाइल नंबर पर संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन वह स्विच ऑफ था। इस पर वरिष्ठ अफसरों को जानकारी दी गई और मौके पर फोर्स पहुंच गई।

आरोपी के पास से चोरी का ट्रांसफार्मर सहित अन्य सामान बरामद
पूछताछ में पुलिस टीम को किसी भी लड़ाई-झगड़े या उपद्रव की जानकारी नहीं मिली। एक बार फिर पुलिस को सक्रिय देख, डर का माहौल जरूर बना। इसके बाद साइबर सेल की मदद से पुलिस ने कॉल करने वाले आरोपी को पकड़ लिया। पूछताछ में पता चला कि आरोपी बोड़ला के पोड़ी गांव के रहने वाला आजम अली है और चोर है। उसके पास से 25 KVA का ट्रांसफार्मर, कंजर्वेटर, 9 बंडल एल्युमीनियम तार सहित अन्य सामान बरामद किया है।

शहर में हुए उपद्रव के बाद से लागू है धारा-144
शहर में वार्ड नंबर 27 के लोहारा नाका चौक इलाके में झंडा लगाने को लेकर हुए विवाद के बाद दो गुटों में लाठी-डंडे और पत्थरबाजी हुई थी। इसके बाद कलेक्टर ने 3 अक्टूबर से धारा-144 लगा दी है। इसमें झूठी अफवाह फैलाना, भीड़ एकत्र करना, समुदाय या वर्ग के खिलाफ बोलना, आपात सेवाएं रोकना प्रतिबंधित है। करीब 5 दिन तक हिंसा की आग में सुलगे जिले को लेकर पुलिस अब कोई कोताही नहीं बरतना चाहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *