रायपुर वॉच

15 साल के किशोर का शव फंदे पर लटकता मिला, दीवार पर लिखा मिला- मैं जानकी और राजदीप की वजह से मर रहा हूं

आरंग। राजधानी रायपुर के करीब ही मंदिर हसौद थाना क्षेत्र के ग्राम बहानाकाड़ी में 15 वर्षीय किशोर ने अपने घर में फांसी लगा ली है। घर से बदबू उठने पर पड़ोसियों को पता चला कि अंदर कुछ अनहोनी हुई है। युवक का नाम गौरी शंकर निषाद और पिता स्वर्गीय उत्तम निषाद ग्राम बहानाकाड़ी उम्र 15 वर्ष की मंदिर हसौद थाने में पुष्टि की है। वह अपने परिवार के साथ कोटा तिल्दा से से आकर विगत कई वर्षों से ग्राम बहानाकाड़ी में मकान बनाकर रहते थे। गौरीशंकर के पिता की मृत्यु के बाद 1 वर्ष पहले युवक को छोड़कर उसकी मां भी कहीं चली गई। उसका आज तक पता नहीं चल पाया। गौरी शंकर निषाद उम्र 15 वर्ष ग्राम बहानाकाड़ी में अपने घर में अकेले रहकर कंडक्टर हेल्पर का काम करता था। उसे अपने सूने मकान में फांसी के फंदे में झूला पाया गया। जिसे मंदिरहसौद पुलिस टीम के द्वारा शव को नीचे उतारा गया। घर के अंदर फांसी लगे शव के पास दीवार पर कोयले से फांसी लगाने वाली चित्र बनाकर मैं जानकी और राजदीप के वजह से मर रहा हूं लिखा हुआ है। मंदिर हसौद पुलिस पंचनामा करके जांच में जुटी हुई है। फांसी पर लटके शव को निकालकर मंदिर हसौद पुलिस के द्वारा पोस्टमार्टम के लिए रायपुर भेजा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *