देश दुनिया वॉच

किसी ने बेटा खोया, किसी ने सुहाग… बाराबंकी सड़क हादसे में उजड़े 15 परिवार

बाराबंकी : यूपी के बाराबंकी में गुरुवार को बड़ा सड़क हादसा हो गया. बस-ट्रक में हुई आमने सामने से टक्कर में 15 लोगो की मौत हो गई. इस हादसे में किसी ने अपना बेटा खोया, तो किसी ने अपना सुहाग. इस हादसे में कई परिवार उजड़ गए. उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने का ऐलान किया है.

बाराबंकी के अब्दुल रहमान की मौत

बाराबंकी में सुबह हुए भीषण सड़क हादसे में व्यापारी अब्दुल रहमान की मौत हो गई. अब्दुल रहमान अपनी मोबाइल और इलेक्ट्रिक की शॉप चलाते थे और दिल्ली सामान खरीदने गए थे. सड़क हादसे में अचानक हुई मौत के बाद पत्नी का रो- रो कर बुरा हाल है.

बाप के सामने जवान बेटे की लाश, हुआ बेहोश

यहां करनैलगंज गोंडा से आए बूढ़े बाप अपने जवान बेटे का शव देखकर बेहोश हो गए. रामस्वरूप के बेटे विनोद की सड़क हादसे में मौत हो गई. विनोद मनाली में सेब की पेकिंग का काम करते थे. उनके तीन छोटे छोटे बच्चे हैं. ऐसे में बूढ़े बाप की यही चिंता है कि इन बच्चों की देखभाल कौन करेगा.

कदीर परिवार से मिलने जा रहे थे, लेकिन रास्ते मे मौत ने लगाया गले

बहराइच के रहने वाले कदीर दिल्ली में जूस का ठेला लगाते थे. वे अपने परिवार से मिलने के लिए दिल्ली से बहराइच जा रहे थे. लेकिन बाराबंरी में उनकी मौत हो गई. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे परिजनों का रो-रो कर बुरा हो गया. भाई, पत्नी और बेटी मौत की खबर से बेहाल है. जैसे ही मौत की खबर मिली ये लोग बाराबंकी आ गए थे.

गोंडा के मीनू ने बहनोई, भाई और रिश्तेदार को हादसे में खोया

इस घटना के चश्मदीद गवाह गोंडा निवासी मीनू ने बताया कि वे बस में थे. उन्होंने बताया कि हादसे में बहनोई, भाई और दोस्त की मौत हो गई. ये लोग हिमाचल प्रदेश के मनाली में सेब की पेकिंग के लिए गए थे. वहां से दिल्ली होते हुए अपने गांव वापस जा रहे थे. उन्होंने बताया कि बस में लगभग 70-75 लोग सवार थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *