Wednesday, February 28, 2024
Latest:
प्रांतीय वॉच

ई पंजीयन प्रणाली योजना : प्रदेश सरकार खिलाफ भाजपा के आरोपों पर जिला कांग्रेस प्रवक्ता राजू साहू ने दी कड़ी प्रतिक्रिया, भाजपा के नेताओं को बड़े ठेकेदारों का एजेंट करार दिया

बालकृष्ण मिश्रा/सुकमा : भारतीय जनता पार्टी जिला-सुकमा के तथाकथित नेताओं द्वारा छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार द्वारा राज्य के युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने तथा आत्मनिर्भर बनाने हेतु प्रारंभ की गई ई पंजीयन प्रणाली योजना के जिला सुकमा में क्रियान्वयन को लेकर भ्र्ष्टाचार के आरोप लगाये हैं, जिस पर जिला कांग्रेस के प्रवक्ता जगन्नाथ राजू साहू ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा के जिलाध्यक्ष हूँगाराम मरकाम औऱ नेताओं मनोज देव, दिलीप पेद्दी को बड़े ठेकेदारों का एजेंट करार दिया है।

जिला कांग्रेस प्रवक्ता व नगरपालिका अध्यक्ष जगन्नाथ राजू साहू ने बताया कि स्थानीय बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार प्रदान करने के उद्देश्य से ई पंजीयन प्रणाली योजना को लागू करने वाला छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है। पूवर्ती भाजपा सरकार द्वारा छोड़ी गई बेरोजगारी की समस्या को दूर करने के लिए प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने बेरोजगारों को रोजगार प्रदान करने वाली इस योजना को प्रारंभ किया है। इस योजना के तहत राज्य के 12 वीं उत्तीर्ण जितने भी बेरोजगार युवा हैं उनको 20 लाख रुपये के कार्य समिति निविदा के माध्यम से ब्लॉक स्तर पर उपलब्ध होंगे। इससे विशेष रूप से स्थानीय बेरोजगार युवाओं को लाभ होगा। एवं कई युवाओं को कार्य मिल चुके हैं व कार्य प्रगति में हैं।

इस योजना के तहत जिला सुकमा के अंतर्गत 60 से भी अधिक स्थानीय युवा बेरोजगारों ने लोक निर्माण विभाग में ई पंजीयन कराया है जिसमें कोंटा भेजी छिंदगढ़ जैसे ग्रामीण आदिवासी क्षेत्र के युवा भी हैं। सरकार की इस योजना के तहत स्थानीय बेरोजगार आदिवासी तथा पिछड़े वर्ग के युवाओं को स्वरोजगार मिलने से जिला के भाजपा नेताओं के हाथ से कमीशन जा रहा है जिसकी वजह से भ्रष्टाचार की शिकायत कर रहे हैं। जबकि लोक निर्माण विभाग सुकमा के द्वारा पारदर्शिता के साथ क्रियान्वयन कर स्थानीय बेरोजगारों को अवसर दिया जा रहा है।

इससे पूर्व भाजपा के 15वर्षों की सरकार में स्थानीय भाजपाई नेताओं द्वारा आश्रमों के अधीक्षक व छोटे-छोटे कर्मचारियों से भी अवैध वसूली करने का मामला सामने है। भाजपा द्वारा अन्य मद तथा विभागीय निर्माण कार्यों में अधिकारियों को साथ लेकर बड़े बड़े ठेकेदारों के साथ पार्टनरशिप में काम करते थे।

लेकिन कांग्रेस सरकार में इनका गोरखधंधा पूरी तरह से बन्द हो गया है जिससे इनके आय का स्रोत खत्म हो गया है। जिला सुकमा में इस योजना के सफलतापूर्वक क्रियान्वयन से स्थानीय बेरोजगार युवाओं को सुनहरा अवसर मिल रहा है जिससे बड़े ठेकेदारों के प्रतिनिधियों को तकलीफ हो रही है। पूवर्ती भाजपा सरकार में स्थानीय भाजपा नेता अधिकारियों से मिलीभगत वह बड़े ठेकेदारों से सांठगांठ कर सरकार को करोड़ों रुपए के राजस्व का नुकसान पहुंचाते थे और स्थानीय बेरोजगार युवाओं के अधिकारों के साथ अन्याय करते थे। कांग्रेस की सरकार में इस गोरखधंधे में लगाम लगने से और नाजायज तरीके से पैसा कमाने का अवसर न मिलने से भाजपा नेता शिकायत करते घूम रहे हैं जोकि उचित नहीं है।

भाजपा के स्थानीय नेता कभी भी जनता के प्रतिनिधि नहीं रहे हैं और ना ही उनका कभी भी उद्देश्य रहा है कि जनता तक शासन की योजनाओं को लेकर जायें। ये हमेशा चंदाख़ोरी,कमीशनखोरी,ठेकेदारी तथा निर्माण कार्यों में समय देकर जनता के नेता होने का मुखौटा मात्र लगाए रहते हैं।

भाजपा के कार्यकाल में कितना भ्रष्टाचार होता था यह जनता अच्छे से जान व समझ चुकी है आने वाले समय में भाजपा द्वारा नगरपालिका में किये गए भ्रष्टाचार को भी उजागर किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *