प्रांतीय वॉच

सांस्कृतिक भवन छूरा में वन विभाग द्वारा तेंदूपत्ता पूर्व साख कर्तन का एक दिवसीव प्रशिक्षण दिया गया

यामिनी चंद्राकर/ छूरा : वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग वनमण्डल गरियाबंद अंतर्गत वनपरिक्षेत्र छुरा में  वर्ष 2021में अच्छी गुणवत्ता के तेंदूपत्ता संग्रहन के सम्बंध में मयंक अग्रवाल  वनमंडलाधिकारी गरियाबन्द एवं प्रबंध संचालक जिला वनोपज यूनियन के निर्देशन में तेन्दु पत्ता सीजन वर्ष 2021 संग्रहण कार्य के पूर्व शाख कर्तन प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन सांस्कृतिक भवन छुरा में रखा गया था।इस प्रशिक्षण कार्यशाला में मुख्य अतिथि श्यामलाल सोरी उपाध्यक्ष जिला यूनियन गरियाबंद, विशेष अतिथि दयाराम नागेश संचालक सदस्य जिला यूनियन गरियाबंद, तिहार सिंह टेकाम संचालक सदस्य जिला यूनियन गरियाबंद, अध्यक्षता राजू निहलानी उप प्रबंध संचालक राज्य संघ रायपुर, अरुण तिवारी उप प्रंबध संचालक जिला यूनियन गरियाबंद, अशोक कुमार भट्ट वन परिक्षेत्र अधिकारी छुरा एवं परसुली, के सानिध्य में किया गया। मंच का संचालन धनेश कुमार सिन्हा (वनपाल) के द्वारा किया गया। शाख कर्तन कार्यशाला में छुरा परिक्षेत्र अंतर्गत 17 प्राथमिक लघु वनोपज समितियों के 139 फड़ ,ग्राम कुल संग्राहकों की संख्या 15595 एवं परसुली परिक्षेत्र अंतर्गत 08 प्राथमिक लघु वनोपज समितियों के 54 फड़ के  9610 संग्राहकों को प्रशिक्षित करने के उद्देश्य से संबंधित समिति अंतर्गत प्रबंधक, पोषक अधिकारी, फड़ मुंशी एवं संचालक सदस्यों को सफल प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण दौरान शाखकर्तन या बूटा कटाई का स्वरुप, लाभ, तकनीकी विधि, कार्य एवं निरीक्षण की प्रक्रिया, भुगतान की प्रक्रिया, संग्रहण अवधि में अपराध के संबंध में विस्तृत जानकारी प्रदान किया गया। इस अवसर पर वन परिक्षेत्र अधिकारी अशोक कुमार भट्ट ने कहा कि तेंदूपत्ता ग्रामीण क्षेत्र के लोगो के लिए एक बड़ी आय का जरिया है हर वर्ष क्षेत्र के ग्रामीण अच्छी गुणवत्ता की तेंदूपत्ता तोड़कर अपनी आय में बढ़ोत्तरी करते है उन्होंने आगे कहा कि शासन द्वारा इस वर्ष तेंदूपत्ता संग्रहण परिश्रमिक दर 4000 हजार रुपये प्रति मानक बोरा कर दिया गया है। वनपरिक्षेत्र अधिकारी ने कार्यशाला में उपस्तित लोगों से कहा कि वे अपने क्षेत्र की जनता को वनों की अवैध कटाई के साथ जंगलो में आगजनी रोकने हेतु जागरूक करे।
इस अवसर पर डोमार साहू उप वनक्षेत्रापाल, दुर्गा प्रसाद दीक्षित वनपाल, रमेश कुमार साहू वनपाल, डुमेश्वर सिंह साहू वनपाल, देवराम साहू वनरक्षक, चिंताराम निमंलकर वनरक्षक, यादराम सिन्हा वनरक्षक, चित्रासेन दीवान वनरक्षक, कृष्ण कुमार ध्रुव वनरक्षक, छमेश्वर साहू वनरक्षक, चन्द्रभान देशमुख वनरक्षक, पुरुषोत्तम ध्रुर्वा वनरक्षक, ईशु कुमार जोशी वनरक्षक, अनुज कुमार यादव वन चैकीदार, प्रबंधक नोहर सिंह ठाकुर, प्रेमसिंह ठाकुर, केशव यादव, नसरुद्दिन खान, कुमार ध्रुव, कार्तिक राम, रंजन सिंह, जनक राम, लखी राम, हेमलाल सिन्हा, शिवनारायण खुटे, देवसिंह नाग, दल्ला राम, डायमंड साहू, मया राम ध्रुव, दिनेश ध्रुव, फड़ मुशी – देवसिंह नाग, शंकर जगत, दिनेश नेताम, दशरथ नेताम, प्रताप नेताम, भारत ध्रुव, हलख राम नागेश, गंगाराम ठाकुर एवं वन परिक्षेत्रा छुरा से टेमन लाल साहू, मनोज कुमार दीक्षित, नागेश्वर कुमार साहू, अशोक कुमार यदु, डोमन लाल यदु, मोहन लाल निर्मलकर, लीलाम्बर ध्रुव, कन्हैयालाल यादव, गजपाल ठाकुर, नदीम खान, भोला साहू, एव शत्राुघन साहू, अन्य सहित विभिन्न प्राथमिक लघुवनोपज समितियों से आये लगभग 300 से 350 की संख्या में प्रशिक्षणार्थियों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *