प्रांतीय वॉच

खबर का असर : दसवें दिन गांव में पहुचा बिजली ग्रामीणों में दिखी खुशी

  • चार वितरण केंद्र एक कनिष्ठ अभियंता तीन पद खाली
प्रकाश नाग/ केशकाल : सोशल मीडिया मीडिया के खबर का असर हुआ और दस दिन से अंधेरे में डूबे गांव पड्डे में ट्रांसफार्मर लगाने से गांव में फिर उजला हो गया ।10 दिनों बाद फिर से बिजली आने पर ग्रामवासियों ने खुशी जाहिर करते मीडिया के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते यह माना की अगर मीडिया मसले को नहीं उठाता तो हम लोगों को न जाने कितने दिनों तक और अंधेरे में ही गुजारा करना पड़ा होता। उल्लेखनीय है कि केशकाल के ग्राम पड्डे में दस दिन से ट्रांसफार्मर खराब होने के चलते पूरे गांव को अंधेरे में रहने की लाचारी से जुड़े समस्या को सोशल मीडिया एवं मीडिया में प्रभावी ढंग से 20 अक्टूबर को उठाया गया। खबर का असर यह हुआ कि ट्रांसफार्मर न होने का रोना एवं अधिकारी के क्वारंटाईन रहने का बहाना बनाने वाले कर्मचारी ही गांव पहुँच कर  20 अक्टूबर को ही आनन फानन नया ट्रांसफार्मर लगा कर गांव में उजाला करते विद्युत वितरंण व्यवस्था दुरूस्त कर दिया गया।
चार वितरण केंद्र एक कनिष्ठ अभियंता तीन पद खाली
आपको बता दे कि विभागीय लापरवाही के चलते कई को बिजली की आंख मिचोली का सामना करना पड़ रहा है कुछ ऐसे भी गांव है जिन्हें कई दिनो अंधेरे में रहना पड़ रहा है । लेकिन जिम्मेदार अधिकारी बेसुध होकर अपना काम निकाल रहे है । केशकाल उप संभाग अंतर्गत चार वितरण केंद्र केशकाल, धनोरा, विश्रामपुरी और बडेराजपुर आता है प्रत्येक वितरण केंद्र में कनिष्ठ अभियंता होने पदस्थापना है लेकिन विश्रामपुरी छोड़ तीनों वितरण केंद्र में कनिष्ठ अभियंता का पद रिक्त और उन सभी का भार सहायक अभियंता पर है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *